Agar Bhigne Ka Shouq Hai Baarish Me

Agar Bhigne Ka Shouq Hai Baarish Me

अगर भीगने का इतना ही शौक है बारिश मे,
तो देखो ना मेरी आँखों मे,
बारिश तो हर एक के लिए होती है,
लेकिन ये आँखें सिर्फ तुम्हारे लिए बरसती है…