Rehna To Chahte The Sath Unke

रहना तो चाहते थे साथ उनके,
पर इस ज़माने ने रहने न दिया,
कभी वक़्त की ख़ामोशी में खामोश रहे,
तो कभी उनकी ख़ामोशी ने कुछ कहने न दिया…

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.