Unse Mil Na Sakenge Kabhi

रब ने  मेरे हाथो में ऐसी लकीर लिख दी,
उनसे मिल न सकेंगे कभी ऐसी तक़दीर लिख दी,
जिसे चाहते थे जान से भी ज्यादा,
रब ने किसी और के नाम वो जागीर लिख दी…

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.