Tag: Kahte Hai Jindagi Ka Aakhri Thikana

Kuch Achha Kar Le Musafir

Kuch Achha Kar Le Musafir

कहते है जिंदगी का आखरी ठिकाना,
ईश्वर का घर होता है..
कुछ अच्छा कर ले मुसाफिर,
किसी के घर खाली हाथ नहीं जाते…