Tag: रुके तो चाँद जैसी है चले तो हवाओं जैसी है

Wo Maa Hi Hai, Jo Dhoop Me Bhi Chaav Jaisi Hai

Wo Maa Hi Hai, Jo Dhoop Me Bhi Chaav Jaisi Hai

रुके तो चाँद जैसी है, चले तो हवाओं जैसी है,
वो ‎माँ‬ ही है, जो धूप में भी छाँव जैसी है…