Tag: कभी पीठ पीछे आपकी बात चले

Baat To Unhi Ki Hoti Hai

कभी पीठ पीछे आपकी बात चले,
तो घबराना मत…
क्योंकी बात तो “उन्ही की होती है”
जिनमे कोई “बात” होती है…