Tag: कदम यूं ही डगमगा गए रास्ते में

Jise Hum Apna Maante They

Jise Hum Apna Maante They

कदम यूं ही डगमगा गए रास्ते में,
वैसे सम्भलना हम भी जानते थे,
ठोकर भी लगी तो उसी पत्थर से,
जिसे हम अपना मानते थे…