Khone Se Jyada Bura Kya Hai

Khone Se Jyada Bura Kya Hai

एक बार किसी शख्स ने
स्वामी विवेकानंद से पूछा,
‘सब कुछ खोने से ज्यादा
बुरा क्या है?’

स्वामी जी ने जवाब दिया,
‘उस उम्मीद को खो देना,
जिसके भरोसे पर हम सब कुछ
वापस पा सकते है!’

Jo Dusron Ka Nuksaan Karte Hai

Jo Dusron Ka Nuksaan Karte Hai

डर उन लोगो का पीछा कभी
नहीं छोड़ता, जो गलत तरीके
से अपनी आजीविका कमाते है,
या दूसरों को नुकसान पहुंचाते है!