Akshay Tritiya Quotes, Wishes, Status & Badhai in Hindi | अक्षय तृतीया की शुभकामनाएं

 

अक्षय तृतीया की हार्दिक बधाई

अक्षय तृतीया आई है
संग खुशियां लाई है
सुख समृद्धि पाई है
प्रेम की बहार छाई है
आपको और आपके परिवार को
अक्षय तृतीया की हार्दिक बधाई!

 


सोने का रथ, चांदी की पालकी,
बैठकर जिसमें लक्ष्मी मां हैं आईं,
देने आपके परिवार को,
अक्षय तृतीया की बधाई!
अक्षय तृतीया की हार्दिक बधाई!



शुभ अक्षय तृतीया

आज से ही आपके यहाँ
धन की बरसात हो,
माँ लक्ष्मी का वास हो,
संकटों का नाश हो,
उन्नति का सिर पर ताज हो,
और घर में शांति का वास हो..
शुभ अक्षय तृतीया!


अक्षय तृतीया की हार्दिक शुभकामनाएं

दिनों दिन बढ़ता जाए आपका कारोबार,
परिवार में बना रहे स्नेह और प्यार,
होती रहे सदा आप पर धन की बौछार,
ऐसा हो आपका अक्षय तृतीया का त्यौहार,
अक्षय तृतीया की हार्दिक शुभकामनाएं!


Happy Akshay Tritiya

हर काम पूरा हो,
कोई सपना न अधूरा हो,
धन-धान्य और प्रेम से भरा हो जीवन,
घर में हो लक्ष्मी का आगमन..
Happy Akshay Tritiya !


Akshay Tritiya Ki Hardik Shubhkamanaye

कामयाबी कदम चूमती रहे,
खुशियां आस-पास घूमती रहें,
धन की हो भरमार, मिले अपनों का प्यार,
ऐसा हो आपके लिए,
अक्षय तृतीया का त्योहार !!!
अक्षय तृतीया की हार्दिक शुभकामनाएं!



अक्षय तृतीया का महत्व

सर्वप्रथम आप सभी को अक्षय तृतीया की हार्दिक शुभकामनाएं! आज का दिन कितना पावन? कितना पवित्र? कितना सुखद है यह तथ्य वर्णनातीत है, क्योंकि आज, अंक्षय तृतीया पर्व पूर्णतः हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है। अंक्षय शब्द का अर्थ विश्लेषण करने पर हम यह पाते है, कि वह वस्तु या तथ्य जिसका कदापि क्षय नहीं होता वही अक्षय है अनश्वर है। अर्थात अक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त में किया गया शुभकार्य अनन्त पूण्यदायी होता है। आज के दिन हम किसी शुभ कार्य का शुभारम्भ कर सकते हैं। निवेश हेतू भी आज का दिन शुभ होता है। आज के पावन अवसर पर हम बहुमूल्य पदार्थों जैसे स्वर्ण, रजत का क्रय भी कर सकते हैं।

यह पर्व हिन्दुजन हेतु अत्यन्त महत्वपूर्ण, विशिष्ट एवं अहम होता है। इस दिन माता लक्ष्मी का पूजन विशिष्ट फलदायी होता है। प्रातः काल उठकर, लोग एक दूसरे को इस पावन पर्व की बधाई देने लगते हैं। पूर्व काल में लोग एक दूसरे से मिल कर बधाईयाँ देते थे। लेकिन आज विज्ञान का युग हैं और बहुत से अत्याधुनिक उपकरणो यंत्रो का आविष्कार हो चुका है। जिनके माध्यम से बधाई देने का कार्य अत्यन्त सरल एवं शुभ् हो गया है। हम बड़ी ही सरलता के साथ दूर रहकर भी अपने स्वजनों को अक्षय तृतीया की बधाई दे सकते है ।

अक्षय तृतीया कब है?

शुभ अक्षय तृतीया की शुभकामनाएँ इस रूप में हम अपना बधाई संदेश भेज सकते हैं। इस पर्व का शुभागमन वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को होता है। प्रति वर्ष की भाँति इस वर्ष अर्थात सन 2021 के अप्रैल माह में चौदह (१४) तारीख को यह महापर्व मनाया जायेगा । अक्षय ततीया के शुभ अवसर पर कोई भी शुभ कार्य हम कर सकते हैं। क्योंकि आज का किया हुआ कोई भी शुभ कार्य अक्षय अनन्त फल दायी होता है। इसी कारण के वशी-भूत लोग शुभ कार्य या वैवाहिक कार्यक्रम, धार्मिक अनुष्ठान, गृह प्रवेश, व्यापार, जप तप आदि हेतु इस शुभ दिवस का चयन करते है।

अक्षय तृतीया क्यों मनाया जाता है?

हिन्दू मान्यताओं, वेद पुराणों के अध्ययन, चिन्तन एवं मनन के पश्चात् हम इस निष्कर्ष पर पहूँचत हैं, कि यह पर्व इस लिए विशिष्ट एवं महत्वपूर्ण है क्योकि इसी दिन भगवान परशुराम का अवतरण विष्णु के छठे अवतार के रूप में हुआ था । इसी दिन से सतयुग एवं त्रेता युग का शुभारंभ माना जाता है। इसलिए धर्मिक दृष्टिकोण से भी यह दिन विशेष महत्वपूर्ण, सुभग एवं वंदनीय है। इस पर्व के शुभ अवसर पर हम अपने बंधू गण को शुभकामनाओ के साथ इस दिन के महत्व से भी ज्ञातव्य करा सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.